आज है प्रदूषण नियंत्रण दिवस 2 दिसंबर को प्रदूषण नियंत्रण दिवस सेलिब्रेट किया जाता है इस दिन को मनाने का मुख्य उद्देश्य है पोलूशन से छुटकारा पाना और लोगों को उसके प्रति और उसके हानिकारक प्रभावों के प्रति जागरूक करना ताकि हम अपने पृथ्वी को स्वच्छ और सुरक्षित रख सके पोलूशन पूरी दुनिया के लिए सबसे बड़ी चिंता का विषय है इसका प्रभाव मनुष्य हमारी प्रकृति और पूरी दुनिया में पड़ रहा है अगर हम डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट पर ध्यान देते वायु प्रदूषण और घरेलू वायु प्रदूषण के प्रभाव से हर साल 7 मिलीयन प्रीमेच्योर डेथ होती है और इसी बात से हम अंदाजा लगा सकते हैं कि यह प्रदूषण हमारी जान के लिए कितना घातक है अगर इस दिन के इतिहास की बात करें तो इसका इतिहास 1984 में हुई भोपाल गैस त्रासदी के साथ है 1984 में भोपाल के एक प्लांट से लगभग चार टन आइसोलाइट लीक हो गई थी और जिसके कारण हजारों लोगों की जान चली गई थी और काफी लोगों को शारीरिक और मानसिक परेशानियां भी हुई थी उस दिन को याद रखने के लिए और उस दिन हुई इतनी भयानक घटना को याद रखने के लिए ही  2 दिसंबर के दिन यह दिवस मनाया जाता है एक समय की बात करें हम तो पोलूशन का लेवल इतना ज्यादा हाल हो चुका है कि पूरी दुनिया में 10 में से 9 लोगों को सुरक्षित हवा नहीं मिली है और यह ऐसे दिन का महत्व है कि इससे हमें लोगों को जागरूक करने के लिए और उन्हें बताने के लिए कि किस तरीके से हम पोलूशन को कम कर सकते हैं और हमें अपने वातावरण और सेहत का भी पूरी तरीके से ख्याल रखना चाहिए इससे हमारा पर्यावरण सभी प्रभावित होते हैं और इसके साथ ही हम भोपाल में हुई उस त्रासदी को भी नहीं भूल सकते हैं तो अब सब का यह लक्ष्य है कि हम किस तरीके से इस पोलूशन को कम करने में अपनी भागीदारी साबित करा सकते हैं ताकि आगे आने वाले फ्यूचर में हम एक अच्छे इंवॉल्वमेंट में रह सके और एक प्रकृति से भरपूर जीवन जिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.