Monday, February 26, 2024

14 नवंबर चिल्ड्रन डे

14 नवंबर को हर साल भारत में बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है इस दिन स्कूलों में काफी सारे गेम्स आयोजित कराए जाते हैं जिसमें छोटे से बड़े बच्चे सभी मिलजुल कर पार्टिसिपेट करते हैं यह दिन पूरी तरीके से बच्चों के लिए निर्धारित किया गया है पंडित जवाहरलाल नेहरु जो कि स्वतंत्र भारत के पहले प्रधानमंत्री थे उन्हीं की याद में भारत की संसद ने उनके जन्म दिन यानी 14 नवंबर को भारत में बाल दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया था क्योंकि बच्चों से उन्हें इतना प्यार था कि वह बच्चों के साथ चाचा नेहरू के नाम से प्रसिद्ध थे उनके मन में बच्चों के प्रति अपार प्यार और सम्मान था और वह उन्हें हमारे देश का भविष्य मानते थे इसी प्रकार भारत में 14 नवंबर को बाल दिवस के रूप में मनाया गया जवाहरलाल नेहरू ने अपने एक प्रसिद्ध भाषण में कहा था आज के बच्चे कल का भारत होंगे साथ ही आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत में बाल दिवस पहले 20 नवंबर को मनाया जाता था लेकिन पंडित जवाहर नेहरू के निधन के बाद वर्ष 1964 में उनकी याद में संसद ने उनके जन्मदिन को बाल दिवस समारोह के रूप में स्थापित करने का प्रस्ताव जारी किया था और इसके बाद से ही बाल दिवस को 14 नवंबर के दिन बनाना शुरू कर दिया गया इस दिवस में देशभर में विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किया जाता है असली आयोजन तो स्कूलों में देखने को मिलता है जहां पर बाल दिवस पर हिंदी में भाषण निबंध खेल जैसी प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती है बाल दिवस की शुरुआत किए जाने का मूल कारण बच्चों की जरूरतों को स्वीकार करने उनको पूरा करने उनके अधिकारों की रक्षा करने और उनके साथ हो रहे शोषण को रोकने ताकि बच्चे का विकास एक सुरक्षित तरीके से हो सके इन्हीं सारी चीजों को ध्यान में रखकर बाल दिवस को आयोजित कराया जाता है लेकिन जब तक सरकारी नियमों का कड़ाई से पालन नहीं होता और बच्चों के राहत और रक्षा के कदम नहीं उठाए जाते तब तक देश में बाल दिवस के अवसर पर औपचारिक आयोजनों के जरिए केवल खानापूर्ति ही हो सकती है और मूलभूत सुविधाओं से वंचित बच्चों को अपना बचपन काफी मुश्किलों के साथ ही बताना पड़ता है अगर हमें बाद बस को सार्थक बनाना है तो इसके लिए समाज के सभी वर्गों और सरकारी तंत्रों को इस संवेदनशील मामले में काफी अच्छे तरीके से काम करना होगा ताकि देश के भविष्य को बेहतर बना सके और उसे एक नहीं रहा दे सके जिसमें वह सफलता के शिखर पर हो.

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles